एनीमिया का मतलब क्या होता है | एनीमिया होने का सबसे बड़ा कारण क्या है

 

anemia in hindi detail, aplastic anemia in hindi, anemia diet in hindi, about anemia in hindi, sickle cell anemia in hindi

एनीमिया ( Anemia meaning in hindi) एक ऐसी स्थिति होती है जिसमें आपके शरीर में RBC की कमी हो जाती है। RBC हमारे बोन मैरो द्वारा बनाए जाते हैं और इनकी लाइफ करीब 120 दिन की होती है। 

 

हमारा शरीर लाखों की संख्या में प्रति दिन RBC बनाता है। हर एक RBC अपने साथ एक तरह का प्रोटीन लिए होता है जिसे हम हिमोग्लोबिन कहते हैं। 

 

हिमोग्लोबिन अपने साथ ऑक्सीजन को अटैच कर लेता है और फिर ये शरीर के हर अंग को ये ऑक्सीजन पहुंचाता है। बिना ऑक्सीजन के हमारा शरीर काम नहीं कर पाएगा। 

 

हमारे बोन मैरो को पर्याप्त मात्रा में आयरन और विटामिंस चाहिए की वो RBC बना सके। जब किसी कारणवश हमारा शरीर RBC नहीं बना पाता तो वह हमारे लिवर में मौजूद स्टोर आयरन का इस्तेमाल करने लगता है और जब ये भी खत्म होने लगता है तो हमें एनीमिया हो जाता है। 

 


एनीमिया होने के कारण Causes Of Anemia In Hindi

 

 

1) कुपोषण

 

2) खाए हुए भोजन का सही से शरीर में अवशोषित ना होना

 

3) अनुवांशिक कारण जैसे थैलेसीमिया या सिकल सेल डिजीज

 

4) ऑटोइम्यून बीमारी जिसमे हमारा इम्यून सिस्टम हमारे RBC के विरुद्ध काम करके उसको खत्म करने लगता है। जैसे हेमोलिटिक एनीमिया

 

5) किसी लंबी बीमारी जैसे डायबिटीज़, टीबी या आर्थराइटिस की वजह से

 

6) हार्मोन के असंतुलन के कारण जैसे हाइपोथायरॉइडिज्म

 

7) बोन मैरो में किसी समस्या के कारण जैसे बोन मैरो कैंसर

 

8) अधिक खून बह जाने के कारण जैसे कोई चोट, दुर्घटना, अत्यधिक मासिक धर्म या सर्जरी के कारण

 

9) गर्भावस्था में या बच्चो में जब वो किशोरावस्था (puberty) में बढ़ रहे होते हैं। 

 

10) किसी संक्रमण के कारण या खून पतला करने वाली दवाइयों के कारण

 


एनीमिया के लक्षण Anemia Symptoms Hindi

 


1) थकान और कमजोरी

 

2) अनियंत्रीत हृदय की धड़कन

 

3) हल्की पीली सी त्वचा

 

4) सांस का फूलना

 

5) हाथ पैर ठंडे रहना

 

6) चक्कर आना

 

7) सीने में दर्द महसूस होना

 

8) जीभ का सफेद होना

 

9) आंखो की नीचे वाली पलक को खींचने पर वो सफेद दिखाई देगी।

 


एनीमिया कितने प्रकार का होता है Types Of Anemia In Hindi


एनीमिया वैसे तो कई प्रकार का होता है लेकिन हम यहां इसके सबसे ज्यादा होने वाले और मुख्य प्रकारों का वर्णन करेंगे।

 

1) अप्लास्टिक एनीमिया Aplastic Anemia In Hindi


इस प्रकार के एनीमिया में हमारा शरीर नए RBC बनाना बंद कर देता है। अप्लास्टिक एनीमिया होने का मुख्य कारण हमारा इम्यून सिस्टम होता है। इसमें हमारा इम्यून सिस्टम हमारे शरीर के बोन मैरो को नष्ट करने लगता है। जिसके कारण RBC नहीं बन पाते।

 

2) आयरन की कमी के कारण होने वाला एनीमिया Iron Deficiency Anemia In Hindi


यह सबसे ज्यादा होने वाला एनीमिया है। इसका मुख्य कारण कुपोषण होता है। इसमें आप आयरन की समुचित मात्रा लेकर इसे ठीक कर सकते हैं।

 

3) सिकल सैल एनीमिया Sickle Cell Anemia In Hindi


इस प्रकार का एनीमिया सिकल सैल डिजीज के कारण होता है। यह अनुवांशिक होता है। इस प्रकार के एनीमिया मे हमारे RBC का आकार हंसिया की तरह हो जाता है। जिससे की ये हमारे शरीर की नसों से चिपक जाते हैं और ब्लड के रास्ते को अवरूद्ध कर देते हैं। इसका कोई इलाज नहीं होता। लेकिन दवाईयों से इसकी जटिलता को कम किया जा सकता है।

 

4) थैलेसीमिया Thalassemia Meaning In Hindi


यह भी एक प्रकार का अनुवांशिक एनीमिया होता है। अगर आपको हल्का थैलीसीमिया है तो इसके उपचार की जरूरत नहीं होती लेकिन इसके सीवियर होने पर आपको लगातार ब्लड चड़वाना पड़ता है। यह मुख्यता हमारे DNA में म्यूटेशन के कारण होता है जो की हिमोग्लोबिन बनाते हैं। 

 

5) विटामिन की कमी से होने वाला एनीमिया Vitamin Deficiency Anemia In Hindi


इस प्रकार का एनीमिया तब होता है जब हमारे शरीर में विटामिन B, फॉलिक एसिड और विटामिन C की कमी हो जाती है। आप इन विटामिनों से भरपूर भोजन ले कर इसे दूर कर सकते हैं।



एनीमिया की जांच Anemia Test In Hindi


एनीमिया की जांच के लिए सबसे आसान तरीका है CBC और आयरन प्रोफाइल की जांच करवाना। इससे आपको एनीमिया की जानकारी मिल जायेगी। 

 

अगर डॉक्टर को लगता है की यह इनफॉर्मेशन काफी नही है तो वह और ज्यादा क्लियरिटी के लिए CBC, आयरन प्रोफाइल के साथ साथ विटामिन B, फॉलिक एसिड, बोन मैरो, LFT और KFT की जांच भी करवा सकता हैं। इन सब जांचों से सारी स्तिथि साफ हो जाएगी।

 


एनीमिया का उपचार Anemia Treatment Hindi


एनीमिया के उपचार से पहले डॉक्टर जांच करवा के देखेगा की एनीमिया किस वजह से हो रहा है और फिर वह ईलाज शुरु करेगा। जयादातार मामलों में डॉक्टर आपको आयरन के इंजेक्शन, मल्टीविटामिंस, ऑक्सीजन थेरेपी, ब्लड चढ़ाना या सर्जरी के द्वारा ईलाज करेगा। अपने मन से कभी कोई आयरन की गोली ना लें। दवाई का निर्णय डाक्टर को ही करने दें।

 


एनीमिया को कैसे रोकें How To Prevent Anemia


एनीमिया को रोकने के लिए आपको अपनी डाइट पर बहुत ध्यान देना होगा। आपको पोषक तत्व की सही मात्रा लेनी होगी। ज्यादातर मामलों में आप अच्छे खान पान से एनीमिया होने से रोक सकते हैं।

 

 

 

👇👇👇

 

जानिए कुछ लोगों को मच्छर ज्यादा क्यों काटते हैं ?

 

👆👆👆 


Lav Tripathi

Lav Tripathi is the co-founder of Bretlyzer Healthcare & www.capejasmine.org He is a full-time blogger, trader, and Online marketing expert for the last 10 years. His passion for blogging and content marketing helps people to grow their businesses.

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने