TTG IGA टेस्ट क्या होता है और यह किस बीमारी को बताता है | TTG IgA Test in Hindi

ttg test, ttg iga test, anti ttg test, ttg iga, tissue transglutaminase iga, ttg test price

आज हम जानेंगे की TTG IGA टेस्ट (ttg iga test in hindi)क्या होता है और यह पेट की किस बीमारी का पता लगाने में इस्तेमाल किया जाता है।
 
बहुत से लोगों को ग्लूटन (गेहूं, जौं, राई, ओट्स, अनाज ईत्यादि) युक्त भोजन खाने पर पेट में दिक्कत होने लगती है। 
 
ग्लूटन वाले अनाज या भोजन खाने पर कुछ लोगों को पेट में दर्द, डायरिया, पेट भरा सा महसूस होना, गैस बनना ईत्यादि दिक्कत होने लगती है। 
 
ग्लूटन एक प्रकार का प्रोटीन होता है। हमारी बॉडी इस प्रोटीन के प्रति बहुत ही संवेदनशील हो जाती है। 
 
और इसके विरूद्ध प्रतिक्रिया देने लगती है। इस बीमारी को हम सेलियक (Celiac Disease) कहते हैं। 
 
यह एक ऑटो इम्यून डिसऑर्डर होता है जिसमें हमारा शरीर खुद की ही कोशिकाओं पर हमला करने लगता है।
 
इस बीमारी को पता लगाने के लिए जो खून की जांच की जाती है उसे ही Tissue Transglutaminase IgA या फिर शॉर्ट में TTG IGA टेस्ट कहते हैं।
 
अगर हमें Celiac Disease है और हमने ग्लूटन युक्त भोजन खा लिया तो हमारे इम्यून सैल्स ग्लूटन पर अटैक करके उसको खत्म करने लगते हैं जिसके कारण हमारी छोटी आंत भी डैमेज होने लगती है। 
 
अगर यह कंडीशन लंबे समय तक बनी रहे तो बहुत गम्भीर समस्या पैदा कर देती है।
 
 

Celiac डिजीज किस कारण होती है


जो बच्चे अपने शुरुआती दिनों में बहुत अधिक ग्लूटन युक्त भोजन करते हैं उनको ये बीमारी होने की सबसे अधिक संभावना होती है। 
 
जिन बच्चों को जीवन के शुरुआती चरण में पेट के इंफेक्शन बार बार हो जाते हैं उनको भी Celiac Disease होने की संभावना बढ़ जाती है। 
 
इन सबके अलावा जिनको डायबिटीज़ टाईप-1 है या थायराइड है उनको भी Celiac Disease होने की संभावना होती है। यह रोग अनुवांशिक भी होता है
 
 

Celiac डिजीज के लक्षण क्या हैं


सेलिएक डिजीज के कारण हमारे पेट में निम्न दिक्कतें होने लगती हैं

1) पेट भरा और फूला सा लगना

2) डायरिया

3) कब्ज

4) गैस

5) उल्टी या उल्टी होने की फीलिंग

6) पेट में दर्द

7) बदबूदार स्टूल

8) शुगर को पचा ना पाना
 
यह बीमारी बच्चों में अधिक होती है। इसके अलावा इस बीमारी में वजन कम होना, हाईट कम रह जाना, मूड खराब रहना, त्वचा में खुजली होना भी शामिल है।
 
 

TTG IGA टेस्ट की कीमत कितनी होती है


Celiac डिजीज का पता लगाने में यह टेस्ट गोल्ड स्टैंडर्ड होता है। यह 98% तक की सटीक जानकारी देता है। 
 
इसकी कीमत करीब 1500 रुपए होती है। हर लैब और शहर में इसकी कीमत अलग अलग हो सकती है।
 
 

क्या Celiac डिजीज का ईलाज हो सकता है


नहीं, Celiac डिजीज एक ऑटो इम्यून बीमारी है, इसलिए इसका ईलाज नहीं हो सकता। 
 
आप सिर्फ डाइट को कंट्रोल कर सकते हैं और जीवन भर आपको ग्लूटन फ्री भोजन ही खाना पड़ेगा। 
 
Celiac डिजीज के कारण होने वाली समस्या के लक्षणों को आप दवाई से कंट्रोल कर सकते हैं।
 
 

TTG IGA की नॉर्मल वैल्यू कितनी होती है ttg iga test normal range in hindi


TTG IGA की ब्लड में नॉर्मल वैल्यू 3 U/mL से कम होनी चाहिए। 
 
अगर यह वैल्यू 4 से 10 के बीच में आ रही है तो इसका मतलब है की यह टेस्ट वीक पॉजिटिव है। 
 
अगर यह वैल्यू 11 U/mL से ऊपर आ रही है तो इसका मतलब है की आपको Celiac डिजीज है।
 
 
 
👇👇👇

Lav Tripathi

Lav Tripathi is the co-founder of Bretlyzer Healthcare & www.capejasmine.org He is a full-time blogger, trader, and Online marketing expert for the last 10 years. His passion for blogging and content marketing helps people to grow their businesses.

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने